सख्त कौन? कानून या लोग

thumbnail

चालान ! नाम तो सुना ही होगा,  क्यूंकि हर चौराहे, हर मोड़ पर लोगो का जो खौफ है वो है चालान|

काफी ज्यादा लोग डरे है गाड़ी के सारे दस्तावेज, हेलमेट सब साथ लेकर चलते है, आखिर खौफ नाम की भी कोई चीज होती है, खौफ चालान का नहीं है खौफ चालान के बाद भुगतने वाली राशि से है

चालान के राशि के बारे में बात न करे 10 गुना बढ़ गयी है आईये डालते है एक नजर चालान कि राशि पर,

Offense Old challan/ penalty New challan / penalty
General₹100₹500
Rules of road regulation violation₹100₹500
Disobedience of orders of authorities₹500₹2,000
Unauthorized use of vehicles without license₹1,000₹5,000
Driving without license₹500₹5,000
Driving despite disqualification₹500₹10,000
Oversize vehiclesN/A₹5,000
Over-speeding₹400₹1,000
Dangerous driving₹1,000Up to ₹5,000
Drink driving₹2,000₹10,000
Speeding/Racing₹500₹5,000
Vehicle without permitUp to ₹ 5,000Up to ₹10,000
Aggregators (violations of licensing conditions)N/A₹25,000 to 
₹1 lakh
Overloading₹2,000 and₹1,000 per extra tonne₹20,000 and ₹2,000 per extra tonne
Overloading of passengersN/A₹1,000 per
extra passenger
Seat belt₹100₹1,000
Overloading of two wheelers₹100₹2,000 and disqualification of licence for 3 months
Helmets₹100₹1,000 and
disqualification of license for 3 months
Not providing way for emergency vehiclesN/A₹10,000
Driving without insurance₹1,000₹2,000
Offenses by juvenilesN/AGuardian/ owner shall be deemed to be guilty. ₹25,000 with 3 years imprisonment. Juvenile will be tried under JJ Act. Registration of vehicle will be cancelled.
Power of officers to impound documentsN/ASuspension of driving licenses
Offenses committed by enforcing authoritiesN/ATwice the penalty under the relevant section

ये तो हो गया जो हमे हमारी गाड़ी के दस्तावेज और हेलमेट और वो छोटी छोटी गलतियां जो हम झूठी शान की वजह से करते थे |

हम ये नहीं सोचते की हमारे लिए हमारे घर पर कोई हमारे सही सलामत आने की दुआ कर रहा होगा, किसी हमारी लम्बी उम्र के लिए मंदिर, मस्जिद में कितने चक्कर लगाए होंगे, न जाने कहाँ कहाँ माथा टेका और न जाने हमारी जरा सी तबियत ख़राब होने पर अपनी नींद, चैन, भूख, शुकुन उड़ा दिया होगा|

ये सिर्फ माँ ही नहीं करती इसमें आपकी बहन, बीवी, भाई, पापा या कोई और जिसके लिए आप बहुत महत्वपूर्ण हो|

वैसे हमारे बीच अभी भी बहुत से साहसी लोग है जो तीन तीन लोगो को बिठा कर,हवा में उड़ते हुए, बिना हेलमेट के और कुछ लोग तो हेलमेट हाथ में पकड़ कर चलते है, ये सच में बहुत साहसी लोग है जिन्हे अपनी घर वालो कि भी परवाह नहीं है , और ये सारे करतब बच्चे या नवजवान ही नहीं हमारी पीढ़ी के समझदार वो लोग करते है जिन्होंने अपने बाल धुप में सफ़ेद नहीं किये|

एक महाशय तो पी कर गाड़ी चला रहे थे और ट्रैफिक पुलिस के रोकने पर उनके समझने पर उस महान शख्श ने अपनी ही गाड़ी में आग लगा दी|

कोशिश करे ट्रैफिक नियमो का पालन करे अपने सारे दस्तावेज अपने पास रखे और चालान को देख कर घबराय नहीं अगर आप सही है तो यहाँ आपके लिए एक खुशखबरी है,

अगर आप अपनी गाड़ी के दस्तावेज घर पर या कहीं और भूल गए है तो आपको ये ट्रैफिक पुलिस को यकीन दिलाना होगा की आपके पास सारे दस्तावेज है और बाद में आप अपने चालान में दी गयी राशि वापस ले सकते है और आपको चालान शुल्क के नाम पर सिर्फ 100 रूपए देने होंगे|

और आप क्या सोचते है हमें comment में बताये………

One thought on “सख्त कौन? कानून या लोग

Leave a Reply

Back To Top
%d bloggers like this: